close
Fan-PostHindi Poetry

SUBAH HO GYI

1 (1)
ख़ामोशी में भीगी वो तूफ़ानी काली रात थी। न तुमने कुछ कह, न मेरी बातों में कोई बात थी काँपते शब्द, तुम्हारे दिल में तैरते
read more
Hindi Poetry

Pyaar ke naam

maxresdefault
तेरी जुल्फों का पहरा, तेरी आंखों सा गहरा , तेरी बातें नशीली , तेरा मासूम चेहरा । तू जो बाहों में आये, घड़ी रुक सी
read more